Web Work Trade Link Private Limited, another social media fraud busted

  • -

Web Work Trade Link Private Limited, another social media fraud busted

Firstcry IN Myntra CPS

Both Social Trade and Webwork Trade Link Private Ltd are ‘pay per click’ schemes but the business models are different. The difference between Social Trade, offered by Anubhav Mittal of Ablaze Info Solutions, and Webwork, whose “publishing programs” are offered by directors Anurag Garg and Sandesh Verma, is that while Social Trade ‘s business model is based only on revenue from the investors, Webwork’s model gets revenue from “publishers” as well as from registered shopkeepers and product sellers.Webwork has created a webpage, addsbook.com, where some shopkeepers and product sellers are registered, according to the company. These shopkeepers would pay to ABC Associates, Webwork’s sister concern.

Webwork Trade Link Private Ltd subscription mechanism

In effect, the Webwork Trade Link Private Ltd gets money from these registered shopkeepers and from the “publishers” who buy its plans.However, legal and financial experts have warned investors to exercise caution before putting their money in the programs of these companies in absence of any one law to govern the internet-based business models. Social Trade operated through a maze of dubious URLs sent to the phones of subscribers that they were asked to click on. These would sometimes be links to Facebook or Twitter profiles of other subscribers. However, there was apparently no promotion happening because a fake server was set up where these links would terminate.According to the UP special task force, the total amount that has been dumped from over six lakh investors is around Rs 3,700 crore.

Read: Will you get back your money from SOCIAL TRADE

The Uttar Pradesh police investigating allegations of fraud levied against an online social trading company, Web Work Trade Link Private Limited. The company is suspected to be working on the lines of Ablaze Info Solutions Private Limited, which is currently being investigated for fraud.

According to the complaint filed by AK Jain, an insurance agent from Ghaziabad, Web Work, which has an office in Noida’s Sector 2, offered people a chance to make money following an initial investment.

Noida police on February 12 lodged an FIR under the charges of cheating against Web Work’s directors — Anurag Garg and Sandesh Verma — following the complaint.

“Today, we are taking statements of the complainant, AK Jain, who accused Web Work of cheating and fraud. Once we are done with that, we will move onto the next phase of investigations. We are understanding the case in detail — as to how Web Work is cheating investors and its modus operandi,” Gaurav Grover, additional superintendent of police (DSP), Gautam Budh Nagar, said.

“The complainant has invested ₹3.5 lakh in Web Work, as per the investment scheme. He got returns for a few days after which the web portal stopped payments. In an FIR, prima facie, allegations are that the company has violated law to cheat investors. We are trying to pinpoint the law that has been violated and determining the best way to proceed with the investigation,” Grover said.

In a similar case, the Uttar Pradesh Police’s Special Task force had on February 2 busted an online trading scam worth over Rs 3,700 crore by Noida-based Ablaze Info Solutions Private Limited in which nearly seven lakh people were duped on the pretext of getting money in lieu of clicking on specific links.

Amit Kishore Jain, a Ghaziabad resident, filed a complaint at Sector 20 police station alleging that the company’s owners duped nearly two lakh people who were promised handsome returns by clicking on web links and made Rs 500 crore in the past four months.

Read: SOCIAL TRADE BIZ REVIEW

Behrouz [CPS] IN Pepperfry [CPS] IN

Webwork Trade Links Private Limited is located at D 57, Sector 2 and has shut operations till April 20.

An FIR has been filed based on Jain’s complaint and the UPSTF has started a probe into the matter.

“The company’s directors Anurag Garg and Sudesh offered membership to more than four lakh people in the past four months for the click and earn plan. It is alleged that they collected over Rs 500 crore from around two lakh people,” SP (City) Dinesh Yadav said.

The complainant has alleged that Bollywood actors Shah Rukh Khan and Nawazuddin Siddiqui are brand ambassadors of the firm and have featured in its advertisements.

UPSTF ASP Triveni Singh said, “We have other such companies on our radar and started a probe into this case.”

The company in a notice on its website has said its operations will remain closed till April 20 due to transaction problems.

READ: SOCIAL TRADE SCAM

click-scandal-of-500-crore

click-scandal-of-500-crore

सोशल ट्रेड के बाद अब वेब वर्क कंपनी तमाम एजेंसियों के रडार पर है. इस सिलसिले में अब वित्त मंत्रालय की खुफिया इकाई एफआईयू यानी फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट ने जांच शुरू कर दी है. आपको बता दें कि एफआईयू ट्रेरर फाइनेंस, मनी लांड्रिंग के खिलाफ जांच करती है.

आपको बता दें कि शनिवार को बाकायदा वेब वर्क कंपनी के मालिकों संदेश वर्मा और अनुराग गर्ग ने अखबारों में एड देकर कंपनी के बंद होने की सूचना दी थी. इसके बाद से लाखों लोगों का भविष्य अधर में लटक गया है.

दरअसल, कंपनी के फर्जीवाड़े के खिलाफ दिसंबर महीने में शिकायत दी गई थी. इसके बाद से अब एफआईयू ने जांच शुरू कर दी है. माना जा रहा है कि इस कंपनी ने 4 महीनों में 500 करोड़ रुपए इंवेस्टर से ले लिए. कई लोग तो ऐसे हैं जिन्होंने कई लाख रुपए इस कंपनी में इवेंस्ट किए थे.

सूत्रों की मानें तो वेब वर्क के खिलाफ यूपी एसटीएफ को शिकायतें मिल रही हैं. अब चूंकि पुलिस के एक्शन होने से पहले ही कंपनी के मालिक इसे बंद कर चुके हैं. ऐसे में लाखों लोगों की पेमेंट आना बंद हो गई है. ये कंपनी फिलहाल बिट क्वाइन में पैसे दे रही थी, जो कि अवैध करेंसी है.

माना जा रहा है कि जल्द ही पुलिस इस सिलसिले में एक्शन लेगी. ये भी कहा जा रहा है कि इस सिलसिले में पुलिस जल्द ही एफआईआर भी दर्ज करने जा रही है. ऐसे में लाखों लोगों की जमापूंजी इस वजह से फंस जाएगी.


Comment below if you invested or want more information about WEB WORK TRADE LINK

Behrouz [CPS] IN Behrouz [CPS] IN

  • -

SOCIAL TRADE BIZ, Intmart, Frenzzup.com, Will you get back your money,where is Anubhav Mittal

Thousands of investors in SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com owned by Ablaze info solution marched at Jantar Mantar in Delhi to show their support for the scheme that helped in earning money. They all believe that Social Trade business is perfectly genuine.

An owner of Broadband internet device, Vikas Gupta carrying placards in support of Anubhav Mittal, mentioned that he had rise in the sale after he took subscription from SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com that provided returns for hitting LIKES on social link.

People are claiming for huge profits from either subscription of hitting LIKE or promoting their business but in reality, Social Trade doesn’t have any genuine clients. Most of the people speaking in favor of SOCIAL TRADE BIZ, Intmart, Frenzzup.com are either Top earners or might be personal well-wishers.

People are spreading the news in Social media that they don’t need to panic against the arrest of Anubhav Mittal or closing of SOCIAL TRADE BIZ, Intmart, Frenzzup.com. People promoted or convince others to join Social Trade Platform. Both consumer and advertiser had come up with a digital marketing platform to get promotion of products and others to get incentives in form of huge bonus for hitting likes and getting boosted income.

Read: social trade conditions and terms

Decathlon IN Behrouz [CPS] IN

Business mechanism of SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com has been declared as Ponzi scheme by UP Police STF. They confirmed that entire money raised by SOCIAL TRADE BIZ, Intmart, Frenzzup.com is raised through subscriptions bought by others. This explains how subscribers more than 10 lakh formed a typical pyramid scheme. STF has received more than 2,500 complaints, including from other countries like Oman and Nigeria. It means SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com rooted in other countries out of India.

Most of the protesters at Jantar Mantar said SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com had generated employment to us. A medical store owner told he saw a big increase in the sale after he took subscription from Social Trade.

Subscribers commented at the arrest of Anubhav Mittal, owner of Ablaze Infosolution is populated as a conspiracy from other competitive company . SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com provided more attractive rates as compared to other companies.

Read: UP STF busted 3700 crore, SOCIAL TRADE SCAM

How things went wrong in SOCIAL TRADE BIZ, Intmart and Frenzzup.com and Ended in Scam?

  • Reducing the no. of clicks to 125 to 100. No notification was available during that point these are the promotional clicks.
  • One of the diamond upliner Mr. Santosh Kumar of the social trade told us that this information was cleared by the company 2-3 months back. None of our upliners nor this company has informed us for the 25% extra clicks. They have made the WhatsApp group for their downliners. I have protested against the changes one of the admin members Mr. Jitender Gupta removed me from the group. This clearly shows what is the intension of the social trade & it’s associates especially my upliners.
  • I don’t understand how you can do bid adieu to social trade. When you took money for that website. Example: Facebook bought WhatsApp. But they are not allowed to integrate the customer databases of each other. Flipkart takeover mantra. They neither integrated their customer databases.
  • They took money from us for the Multi-level marketing structure. But they have discarded this system.
  • I (Ankit) have received the payment of Rs. 4800 only against my investment of Rs. 57500.
  • One more thing they have the one platform until December 2016
  • Social trade biz – Which is almost dissolved. Firstly they came with freehub then converted to frenzzup, then intmart in which they are selling a watch worth Rs. 19000. Is this a branded watch like Rado, etc?
  • If your payment method is digital, Then why you need one & half month time for reconciliation. It clearly means you are utilizing the public money to setup your businesses. Keep it up a true businessman Mr. Anubhav Mittal.

UP STF has kept Anubhav Mittal, owner of Ablaze Info Solution in custody and seized all documents, bank accounts, and technical peripherals to perform further interrogation and analysis. The Recent change of business name from SOCIAL TRADE BIZ to Frenzzup.com has also raised issues of skipping legal laws.


Comment below if you invested in SOCIAL TRADE BIZ and want your money back.

 


  • -

स्पेशल टास्क फाॅर्स, एस टी एफ ने 3,700 करोड़ रुपये के सबसे बड़े ऑनलाइन धोखाधड़ी का किया भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार

  • news social trade
    news social trade

नई दिल्ली: एस टी एफ ने 3,700 करोड़ रुपये के सबसे बड़े ऑनलाइन धोखाधड़ी सोशल ट्रेड का किया भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार 

ऑनलाइन व्यापार के भेष में चलाया जा रहा 3,700 करोड़ रुपये का सोशल ट्रेड का बिज़नेस स्पेशल टास्क फाॅर्स (एस टी एफ) ने खुलासा किया है।  तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है और आगे जांच जारी  है। प्रारंभिक जांच से पता चला कि नोएडा सेक्टर-63 में स्थित Ablaze Infosolution  नामक कंपनी ने  लगभग 7 लाख लोगों को ठगा और लगभग रु 3,700 करोड़ अपने पास जमा कर लिए ।

social trade

social trade

Read more: SOCIAL TRADE 

‘क्लिक करे और 5  रुपये कमायें ‘ स्कीम के अन्तर्गत लोगो को  5,750 से 57,500 रुपए लेकर सदस्य बनाया जा रहा था । यह कंपनी सोशल ट्रेड बिज़ नाम के अन्तर्गत कंपनी चला रहे थे जिसका कार्यालय गाजियाबाद और नॉएडा स्थित है

Read more: SOCIAL TRADE

Shoppersstop CPV Lifestylestores [CPS] IN

पुलिस ने कहा की अबतक रु 500 करोड़ के आसपास ट्रैक करने में कामयाब रहे और बाकी आगे जांच जारी है। पुलिस ने कंपनी के खाते जब्त कर दिए है। Ablaze Infosolution  के  मालिक ने लगातार गिरफ्तारी से बचने के लिए कंपनी के नाम में बदलाव किये। freehub.com, intmaart.com frenzzup.com, 3W.com, socialtrade.biz. आदि नामो से विभिन्न कंपनियां चलाई ।

Read more: SOCIAL TRADE

Source : http://www.news18.com/news/india/up-police-unearth-rs-3700-cr-online-fraud-involving-7-lakh-people-3-held-1344058.html



  • -

Social Trade Biz Ablaze Info Solution, Is it safe or fraud, detailed review

social trade

social trade

(सोशल ट्रेड डॉट बिज़) क्या हैं?

इसको सोशल ट्रेड बिज़ के नाम से जाना जा रहा हैं। कम समय में अधिक पैसा कमाने का सपना लिए बहुत सारे लोग हर रोज़ ‘Social Trade’ से जुड़ रहे हैं, और कई लोग तो इससे जुड़कर काफी पैसा भी बना चुके हैं। अब भी जो लोग इस कंपनी से जुड़ रहे हैं, उनके बैंक खाते में कंपनी हर रोज़ पैसे जमा करा रही है। यह कंपनी किसकी है? क्या काम करती है? कैसे काम करती है और कैसे ये लाखो लोगों को रातों-रात अमीर बना देने का वादा कर पा रही है?

‘Social Trade’ ABLAZE Info Solutions (अब्लेज़ इन्फो सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड) नाम की कंपनी की ही एक इकाई है। इसकी शुरुआत August 2015 में हुई थी। यह डिजिटल मार्केटिंग का काम करती है। सोशल मीडिया (Facebook, Twitter, LinkedIn) पर कई लोग अपनी कंपनियों का प्रचार करते हैं। जैसे फेसबुक पर कई लोग अपने पेज को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए फेसबुक को पैसा देते हैं। सोशल मीडिया  पर प्रचार का यही काम सोशल ट्रेड भी करती है।

SocialTrade काम कैसे करता हैं?

SocialTrade एक वेबसाइट हैं जहाँ पर आपको काम करने के लिए सदस्यता  लेनी पड़ती हैं, अभी चार तरह की सदस्यता सोशल ट्रेड दे रहा हैं।

STP 10 (10 clicks per day) – INR 5750
STP 20 (20 clicks per day) – INR 11500
STP 50 (50 clicks per day) – INR 28750
STP 100 (100 clicks per day) – INR 57500

और ये फीस एक साल के लिए वैध हैं एक साल बाद आपको दोबारा से प्लान/पैकेज  को पुनः नवीकरण करवाना पड़ता हैं। अगर आप 11,500 हज़ार का प्लान लेते हैं तो आपको 20 लिंक/क्लिक मिलते हैं, इन क्लिक  की संख्या अलग अलग प्लान में अलग-अलग होती हैं जिनको आपको क्लिक करना पड़ता हैं हर एक क्लिक के Social Trade आपको 5 रूपये देता हैं, बस इतना ही करना हैं और उसके बाद अपने कार्य को सबमिट  कर देना होता हैं आप अपनी दैनिक इनकम को रोजाना, साप्ताहिक या महीने में ले सकते हैं। Social Trade ये पैसा आपके बैंक अकाउंट में NEFT करके जमा कर देता हैं।

ये लिंक  कौनसी वेबसाइट  या फेसबुक पेज के होते हैं?

 Social Trade मूल रूप से SEO का काम करती है। SEO यानी ‘सर्च इंजन ऑप्टीमाईजेशन’ सरल भाषा में समझें तो इसका मतलब है Google और Yahoo, Rediff जैसे सर्च इंजन पर किसी वेबसाइट को बढ़ावा देना, इसके बारें विस्तृत रूप में नीचे बताता हूँ। Social Trade के अनुसार जो links वह अपने user/customers को भेजती हैं ये लिंक  मुख्यतः उन लोगों की वेबसाइट या  पेज के होते हैं जिन्होंने अपने प्रचार के लिए Social Trade को पैसे दिए हैं। कंपनी उन लोगों से हर क्लिक के 10-15 रूपये लेती है, इसमें से हर क्लिक के पांच रूपये वो क्लिक करने वाले को देती हैं और बाकी Social Trade खुद रख लेती है।

इसके अलावा सोशल ट्रेड पर असली कमाई लोगों को जोड़ने से होती है।

जैसे किसी भी Multi Level Marketing(एमएलएम) वाले व्यापार में लोगों को जोड़ना होता है, वैसे ही सोशल ट्रेड में भी ज्यादा से ज्यादा लोगों को कंपनी से जोड़ने पर आपकी कमाई कई गुना तक बढ़ जाती है।

MLM कम्पनी क्या होती हैं और ये सब कुछ समय बाद समाप्त कैसे हो जाती हैं?

MLM का फुल फॉर्म होता हैं Multi Level Marketing। इसमें कंपनी मार्केटिंग का खर्चा नहीं करती हैं बल्कि यह काम उसकें अपने सदस्य ही करते हैं और कंपनी इस काम के लिए उनको कुछ कमीशन देती हैं, यह कमीशन उनको जितने मेंबर वो जोड़ता हैं उसके हिसाब से मिलता रहता हैं, जब कोई भी एक लेग चलनी बंद हो जाती हैं तो कंपनी की इनकम आना बंद हो जाती हैं और इसी तरह कस्टमर का कमीशन भी आना बंद हो जाता हैं और इस तरह से कंपनी बंद हो जाती हैं और कोई कंपनी निष्क्रिय हो जाती हैं और कई कंपनी पैसा लेकर भाग भी जाती हैं।

SEO, SMO, SME क्या होता हैं और कैसे काम करता हैं, आइये जानते हैं।

SEO की फुल फॉर्म हैं Search Engine Optimization
SMO stands for Search Media Optimization
SME Search Media Exchange

क्या SocialTrade के क्लिक मात्र करने से किसी की वेबसाइट, Google अथवा सर्च इंजन  में रैंक कर सकती हैं।

SocialTrade में आपको 10 से 100 अलग अलग सदस्यता के हिसाब से  क्लिक करने को दिए जाते हैं, इसमें यूजर जैसे ही लिंक क्लिक करता हैं तो एक पॉप अप मैसेज होती हैं। वेबसाइट  या फेसबुक पेज थोड़ी देर के लिए खुलता हैं और फिर अपने आप बंद हो जाता हैं  यह मूल रूप से समय  20-30 सेकंड का होता हैं, अब यह बात तो निश्चित ही हैं कि किसी भी यूजर ने उस वेबसाइट को खोल  तो वह पढने के लिए तो किया नहीं हैं मतलब कि user/visitor ने वेबसाइट विजिट करी हैं पर उसको कंटेंट या जानकारी को जानने में रूचि  नहीं हैं, ऐसा विजिट्स को गूगल बॉउंसड ट्रैफिक  में रखता हैं, जिससे वेबसाइट की रैंकिंग में कोई फायदा नहीं होता, हाँ ज्यादा बाउंस रेट होने पर SEO में नुकसान जरुर हो सकता हैं।

Social Trade और facebook, Google के ऐडक्लिक  में क्या फर्क  हैं और कौनसा क्लिक आपकी वेबसाइट को फायदा पंहुचा सकता हैं?

Facebook से विज्ञापन करते समय Facebook आपसे कुछ प्रश्न करता हैं और पूछता हैं कि आपका बिज़नस किस से सम्बंधित हैं कौन सी उम्र के तथा कौनसे वर्ग वाले तथा किस जगह में आप अपने बिज़नस का प्रचार करना चाहते हो?

इस प्रकार आप अपने बिज़नस का दायरा Facebook को बताते हैं और Facebook उस दायरे में आने वाले (Interested Users) को ही ज्यादा से ज्यादा विज्ञापन दिखता हैं जिससे आपका बिज़नस बढ़ने होने में मदद  मिलती हैं।

Google भी इसी तरह की कार्यप्रणाली से विज्ञापन दिखया करता हैं, वह यूजर/बिज़नेस ओनर से उसके बिज़नस का एरिया, कीवर्ड्स डलवाता हैं और उसके हिसाब से  ही आगंतुकों को विज्ञापन दिखाता हैं। आप सभी एक बात नोटिस करते होंगे और अगर नहीं करते तो, कीजिये कि अगर मैं Google पर laptop सर्च करता हूँ तो मुझे अगले 3-4 दिन किसी भी वेबसाइट  पर Google विज्ञापन  में ज्यादा लैपटॉप के ही विज्ञापन दिखाई देंगें।

Social Trade इन सबसे बिल्कुल अलग हैं और पता नहीं किस तरह ही मार्केटिंग या विज्ञापन करता हैं जिसमें यूजर/आगंतुक वेबसाइट खोलता हैं । आगंतुक उस वेबसाइट को देखने में या कोई जानकारी हासिल करने में कोई रूचि नहीं रखता और फिर थोड़ी देर बाद वह वेबसाइट या फेसबुक  पेज अपने आप बंद हो जाता हैं।

क्या SocialTrade के द्वारा कमाई की जा सकती हैं

यह बात तो मैं नहीं बता सकता कि कमाई की जा सकती हैं या नहीं, लेकिन इस बात को मैं अच्छी तरह से जानता हूँ कि जो काम Social Trade करवा रहा हैं और जिस काम के वह पैसे दे रहा हैं वह काम किसी भी काम का नहीं हैं, और इससे वेबसाइट के SEO, SMO को ज्यादा फर्क नहीं पड़ता हैं, कमाई के बारें में तो वही लोग बता सकते हैं जो कि यह कर रहे हैं, लेकिन मैं आप लोगो को यहाँ बताना चाहता हूँ कि आप अपने मेहनत की कमाई को अगर अगर कहीं खर्च करें तो अच्छी तरह से सोच समझ कर करें।

एक बात और बताना चाहता हूँ कि सोशल ट्रेड ने अपनी वेबसाइट पर अपनी प्रमाणिकता साबित करने के लिए कंपनी के PAN Card, Registration Certificate, ISO Certificate और Service Tax Certificate की Image लगाई हुई हैं। Company Law/ Company Secretary(CS) के जानकार बताते हैं कि किसी भी वैध कंपनी को अपनी वेबसाइट पर इन documents को दिखाने की कोई आवश्यकता नहीं होती, तो फिर यह क्यों ऐसा कर रहा हैं, कहीं इसके पीछे कोई बड़ा SCAM करने की साजिश  तो नहीं।

कुल चार दस्तावेज जो कंपनी के पास हैं जो कि मैंने ऊपर बताएं हैं उनमें तीन अलग-अलग पते के  हैं। इससे भी चिंताजनक बात तो यह है कि इन दस्तावेजो  का सीधे-सीधे ‘Social Trade’ से कोई लेना-देना भी नहीं दिखाई देता ये सभी दस्तावेज ‘ABLAZE Info Solutions Pvt Ltd’ नाम की कंपनी के हैं। सोशल ट्रेड का दावा है कि वह इसी कंपनी की एक Unit है लेकिन ‘ABLAZE Info Solutions की वेबसाइट में कहीं भी ‘सोशल ट्रेड’ का कोई जिक्र तक नहीं है।

मैं Social Trade के क्लिक कर-कर के काफी पैसे कमा चुका हूँ, क्या मेरी यह कमाई ऐसे ही जारी रहेगी?

 जो क्लिक  करने से पैसे कमाने का काम हैं वह बेकार का काम हैं और इसका SEO, SMO से कोई लेना देना नहीं हैं, SocialTrade पैसे दे रहा हैं अच्छी बात हैं, पर आगे यह पैसे देगा या नहीं इसके बारें में या तो Social Trade या फिर भगवान ही बता सकता हैं।

Online Digital Marketing के जानकार भी यह बात मानते हैं कि सोशल ट्रेड भी Speak Asia की तरह SCAM कर सकती है क्योंकि ग्राहकों से जो पैसा वह ले रही है उसी पैसे को अन्य ग्राहकों में बांट रही है और उसके पास आय का कोई अन्य जरिया ही नहीं है।

मैंने अभी तक ज्वाइन नहीं किया हैं क्या मुझे यह करना चाहिए।

यह आप की समझ पर निर्भर करता हैं मैं बस इतना ही कहूँगा कि अपनी मेहनत की कमाई को किसी बिज़नेस या इस तरह के काम में लगाने से पहले एक बार अपने स्तर पर अच्छी तरह से जांच लें, किसी झांसे में न आयें, उसने कमायें हैं तो मैं भी कर लूँगा, केवल ऐसा सोच कर न करें, अपने सारें पहलुओं को जांच कर ही कोई कदम बढ़ाएं। आपके मित्र यह बताएँगे कि इस कंपनी की सबसे अच्छी बात यह है कि यह रोज़ के रोज़ ही लोगों के अकाउंट में पैसे जमा करवाती है, इसलिए यहां पैसा डूबने का कोई खतरा नहीं है। लेकिन यह कब तक जमा करवायेगी यह पता नहीं ।

जिस पार्ट टाइम  काम के नाम पर Social Trade पैसा बांट रही है, असल में वह कोई काम ही नहीं है

Social Trade के बारे में इन्टरनेट पर जितनी सकारात्मक जानकारी उपलब्ध हैं उतनी ही नकारात्मक भी, लेकिन फिर भी कुछ लोग उदाहरण बनकर, जिन्होंने Social Trade से जुड़कर लाखों रूपये कमा लिए हैं, अन्य कई लोगों को इससे जुड़ने का लगातार लालच दे रहे हैं अत: आप सभी सोच समझ कर ही इस ओर बढे।



  • -
social trade

SOCIAL TRADE BIZ Terms and conditions, must know before you join

99.9% people joining Social Trade Biz (ABLAZE INFO SOLUTIONS PVT. LTD) will never ever read terms and conditions carefully. It’s a human mindset, whenever you are eager to do something in utmost excitement, you skip very crucial necessary steps. Clicking ACCEPT/I AGREE button means USER has given his acceptance. Let’s review and understand SOCIAL TRADE BIZ Terms conditions, user agreement containing all terms and conditions.

  1. Social Trade biz (ABLAZE INFO SOLUTIONS PVT. LTD) is engaged in the business of Information and Technology and business model related to virtual information exchange through social media.
  2. Users are involved in the business as per online registration form.
  3. The User is interested in this business of digital marketing and e-commerce.
  4. Relying upon representations and agreement means the user is entitled to rendering business.

 

A user panel called ‘Dashboard’ will be provided to user who pays for availing click based service. Social trade can promote any content whether its organic or inorganic means natural user generated content or auto-generated content over the internet.

  • Here, social trade biz is explaining that they are not taking money for providing home-based work of providing links but in reality, they are looting money from customers and taking the huge amount in the name of membership.
  • SOCIAL TRADE shall provide part time Optional work to the customer with the purchase of any of the available Digital Marketing Services on the website, it means it can provide any random online work to customers.
  • It may include  (Social Media Promotion, In-Organic Visits on Website & Blogs, Affiliate Advertisement and other online work)
  • Social Trade owns full right if they want to discontinue part-time work anytime if skipped by the customer.

Read our review about SOCIAL TRADE

PRICING & PAYMENTS:

  • The price of subscription/commercial terms can vary with time, without prior notice. The users are advised to check the same on the website from time to time, means price value can be changed anytime without any notice to user and need to check on website periodically.
  • SOCIAL TRADE shall pay to the User on per Click basis for any services rendered by the customer for the Optional Work rendered. The price of per click is subjected to the decision of the company which shall be notified to the service provider from time to time. The price may increase or decrease pertaining to the competition in the market.
  • User need to get his issues resolved in only 7 days if there are any discrepancy in the invoice provided to them.
  • Payment can be hold down by company anytime if it is under investigation team means there will be no guarantee for payment.
  • No cash payments involved under this business, user needs to submit by online means.

 

 

 OBLIGATIONS OF THE USER:

  • The User shall not use the Ablaze/Social Trade products or services illegally and/or prohibited activity for conducting any illegal activity under applicable laws. The User shall not use the services for spam, unsolicited Facebook pages/posts or websites; unsolicited digital marketing; to defame, abuse, harass, stalk, threaten or otherwise violate the legal rights of others; publish or distribute any inappropriate, profane, defamatory information; restrict or inhibit others from using the services of Ablaze ; illegal call recordings; or, in any way violate applicable Indian laws.
  • The User shall not create a false identity for the purpose of utilizing the Ablaze/Social Trade services and products for misleading others.
  • The User is responsible for maintaining the security and privacy of its account, at its’ end, if its used by any other means will be treated for service termination.
  • The User shall not reverse engineer, de-compile, decode, decrypt, disassemble, or in any way derive source code from Ablaze Info Solution’s Intellectual Property.
  • The User shall submit identification documents as proof of their personal as well as business identity, as regulated by the Govt. of India.

 

 

TERMS & TERMINATION:

  • Any point purchased from Social Trade shall be effective from the date of payment and shall remain valid for the period of 1 year from the date of purchase of those ePoints bought for the first time unless terminated in case breach of terms and conditions of this documents.
  • Termination for Default – the Company may, without prejudice to any other remedy for breach of these terms and conditions, by written notice of default sent to the User, terminate his Social Trade Plan in whole.
  • In the event of Company terminating the plan in whole pursuant to the conditions of this document.

Read our review about SOCIAL TRADE

FINAL VERDICT:

If you are going to register or join SOCIAL TRADE, than keep major points in your mind that company restricts you to your consumer rights. Your money is refundable under very limited conditions, you have limited time to get your boosters, in any case you can’t blame company for the loss and wholly responsible for the same.

In the hidden process of social link exchange program where user clicks on random fake links. To gimmick user interaction, they are offered part-time work for the money paid to them. But in the real world nobody offers such value for clicking a single LIKE button over a random page. Reality of social media is far from the facts. Only money is rotated through Multi level chain marketting where money rotates from bottom to top. It has happened earlier also with lot of schemes like Speak Asia and many others. Most of people are attracted towards easy money generation without any effort. Process changes but mechanism remains same, just make members under you and start earning. If you have earned money with your hardcore efforts, never ever invest or register under these types of schemes to earn fast money. SOCIAL TRADE will see the sunset soon, till it reaches it peak.

Comment below your views about SOCIAL TRADE



  • -
social trade

सोशल ट्रेड बिज़नेस – यह धोखाधड़ी है या निवेश के लिए सुरक्षित,सच जानें

आज के ज़माने में हर कोई जल्द से जल्द कम मेहनत में अमीर बनना चाहता है । कई बार यही सोच इंसान को नाकारा और लोभी बना देती है। लोगो की इसी मानसिकता का फायदा उठा कर कई कंपनिया आये दिन नई नई ऑनलाइन स्कीम चलाती रहती है। पहले लोगो को कागज़ पर लिख कर मुर्ख बनाया जाता था और अब इन्टरनेट पर। कई लोगो को ये बात बुरी लग सकती है लेकिन अपनी गाढ़ी कमाई को इतनी आसानी से लुटाना ये कहा तक सही है ।

हाल ही में चर्चा में आई सोशल ट्रेड बिज़, Ablaze Infosolution की  स्वामित्व कंपनी है । ये गाजियाबाद एवं नोएडा में स्थित है, जहां एक सोशल ट्रेड आदान-प्रदान कार्यक्रम के तहत कंपनी पंजीकृत है । 5,750 रुपये से 57,500 रुपये देकर इसकी सदस्यता ली जाती है । कंपनी की लॉगिन आईडी, जहां उपयोगकर्ता अपने पैनल के तहत LIKE क्लिक करके दैनिक कार्य पूर्ण करता  है। यहां सामाजिक व्यापार कारोबार,सोशल ट्रेड बिज़,  एक सफल समापन के लिए 5 रुपये प्रति क्लिक प्रदान करता है। एक प्रोत्साहन के रूप में  प्रचार और रेफरल द्वारा आय का स्रोत बढ़ा  दिया जाता हैं। अगर सदस्य दो लोगों को जोड़े  तो पैकेज जो  सब्सक्राइब किया है की तुलना में 1 :1  के हिसाब से दोगुनी राशि लिए पात्र हो जाएगा और उसका दैनिक कार्य भी दोगुना हो जाता है । यहाँ बूस्टर इनकम सक्रिय हो जाता है और सदस्य हर हफ्ते  2 लाख तक कमाते हैं।

Read on quora : https://www.quora.com/Is-it-safe-to-invest-in-social-trade-biz

3 घंटे लंबी सेमीनार गालिब ऑडिटोरियम (आईटीओ) नई दिल्ली, में आयोजित हुई । एक घंटे के लिए, यूट्यूब चैनल से ली गई प्रेरक वीडियो चलाई गयी । गूगल, फेसबुक, यूट्यूब, कैसे कमाते हैं, कैसे वे विज्ञापन सेवाओं देते है आदि का प्रदर्शन किया गया । विज्ञापन सेवाओं का भुगतान, देखने के प्रति भुगतान, इनोर्गनिक  लाइक का भुगतान कैसे किया जाता है, दर्शाया । अंतिम घंटे में उनकी तथाकथित पैसे विनिमय योजना, रेफरल बोनस का वर्णन और उच्च नेटवर्क उपलब्धि हासिल करने वाले सदस्य का संबोधन किया । जहां एक व्यक्ति 6 आईडी से 4 लाख साप्ताहिक अपने खाते में क्रेडिट दिखा रहा था, एक व्यक्ति दिखावा कर रहा था कि कैसे कार खरीदने के लिए 8 लाख जुटाने में कामयाब हुआ कंपनी को सोशल मीडिया का काम देने वालो के बारे में ठोस जानकारी नहीं दी गयी । (दिल्ली सरकार, हरियाणा सरकार, एचडीएफसी, कोका कोला का सिर्फ लोगो दर्शाया गया )। यहाँ सोशल ट्रेड बिज़,Ablaze Infosolution की वास्तविक व्यापार के बारे में कोई जानकारी प्रदान नहीं की गयी । SMO (सोशल मीडिया ऑप्टिमाइजेशन ) क्षेत्र के तकनिकी लोग आसानी से इस तकनीक को समझ सकते हैं।

एक सबसे बड़े पते की बात की दाखिला पाने के लिए क्यों इतनी बड़ी राशि ग्राहक द्वारा ली जा रही है? क्यों कम कीमत की योजना लाभ देने के लिए प्रतीत होती है ? जवाब यहाँ है, सोशल ट्रेड बिज़ की तरह एक एमएलएम नेटवर्क बिजनेस में पैसे का तेज प्रवाह करने के लिए और भारी रिटर्न के लिए यह आवश्यक है बड़ी राशि दिखाई जाए

आप की तरह दो बेवकूफ लोगों को खोजने पर निश्चित रूप से आप आसानी से रुपये कमा सकते हैं । socialtrade साइट डोमेन के पंजीकरण के बारे में सभी विवरण छिपा हुआ है।  सोशल ट्रेड बाजार में कोई भी एक LIKE बटन क्लिक करने के लिए इस तरह की राशि नहीं दे सकते। यह केवल जब तक है की अन्य सभी नेटवर्क तरह श्रृंखला तंत्र (चेन प्रणाली ) अपने शीर्ष स्तर पर नहीं पहुच जाती। बस 50Rs दे और मेरे साथ जुड़े हुए दूसरों को 5 रुपए वापस आ जायगा । तेजी से पैसा कमाना क्या वाक़ई इतना आसान है ?

सिर्फ टैक्स और ऑनलाइन लेनदेन का भुगतान करके पूरा काम धोखाधड़ी से चलाया जा रहा है । इनके पहले भी १०-१५ ऑनलाइन बिज़नेस बंद हो चुके है या किये जा चुके है। सारा ब्यौरा निम्नलिखित स्क्रीनशॉट में देखते है।

Read on quora : https://www.quora.com/Is-it-safe-to-invest-in-social-trade-biz

https://who.is/whois/talkindia.co.in

https://who.is/whois/cashmydrive.com



सबसे पहले, कोई भी कंपनी ये साबित नहीं करेगी है कि वे वास्तविक हैं । पैन कार्ड, पंजीयन प्रमाण पत्र, आईएसओ प्रमाणपत्र और सेवा कर प्रमाण पत्र, उत्पाद एवं सीमा शुल्क द्वारा जारी  कुछ कानूनी दस्तावेजों को साइट पर दिखाया गया है । जिसे कंपनी के कारोबार का ज्ञान नहीं है उसे समझाने के लिए आसान है, यह वैध प्रकट हो सकता है। एक वास्तविक कंपनी को कभी कानूनी और असली साबित करने के लिए अपने दस्तावेज दिखाने की आवश्यकता नहीं है ।

लोग निश्चित रूप से अन्य के खाते दिखाकर और प्रलोभन देकर प्रभावित करेंगे । गैर तकनिकी लोग हमेशा गूगल के परिणामों और वेब पृष्ठों से प्रभावित हैं। ऑनलाइन छवि चालाकी से अच्छी दर्शायी जा सकती है ।

पैसा आपका है और सोच भी आपकी, निवेश पूर्ण सजगता के साथ करे।



STAY CONNECTED

Sponsored Links

Decathlon [CPS] IN
  • चीनी शॉपिंग साइट्स गियरबेस्ट, बैंगूड, अली एक्सप्रेस से भारत में सामान कैसे खरीदें
  • How to buy products in India from China shopping sites Gearbest, Bangood, Aliexpress
  • जियो गीगाफाईबर Jio Gigafiber , डीटीएच की दुनिया में नई क्रान्ति
  • अपने स्मार्टफोन पर गूगल असिस्टेंट ‘ओके गूगल’ बोलकर कैसे उपयोग  करें
  • जियो फोन पर व्हाट्सप कैसे चलाये
  • How to run whatsapp on jio phone
  • गूगल तेज़ ऐप ( Google Tez app offer ) से 9000 रुपये कैसे कमायें
  • How to use two apps on the same screen with Split screen in Android 7.0 Nougat
  • Google Tez offers, How to refer and earn cash Rs 9000 installing Tez app
  • जाने कैसा है जियो फोन और सारे फीचर्स, अनबॉक्सिंग व् समीक्षा

Sponsored Links

Sponsored Links

Ajio CPA
Swiggy CPA

You may like

Contact Us